जर्मन चांसलर मर्केल को झटका

दो राज्यों में हारती नज़र आ रही है मर्केल की क्रिश्चियन डेमोक्रेटिक पार्टी.

- Khidki Desk

जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल की मध्य-दक्षिणपंथी पार्टी रविवार को दो राज्य में हुए चुनावों में स्पष्ट रूप से हारती नज़र आ रही है. एग्जिट पोल ने यह संकेत दिया है. राष्ट्रीय चुनाव से छह महीने पहले दो राज्यों में विधानसभा चुनाव हुए हैं.


राष्ट्रीय चुनाव से निर्धारित होगा कि लंबे समय तक देश की नेता रहीं मर्केल का उत्तराधिकारी कौन बनेगा. देश के दक्षिण-पश्चिमी राज्यों बैडेन-वुएर्टेमबर्ग और राइनलैंड-पैलेटिनेट में राज्य विधानसभाओं के लिए रविवार को मतदान हुआ. इसके साथ देशभर में चुनावी मैराथन शुरू हो गया, जो 26 सितंबर को राष्ट्रीय चुनाव के साथ खत्म होगा.


जर्मनी में टीकाकरण अभियान की सुस्त शुरुआत को लेकर मर्केल के खिलाफ असंतोष है.


मर्केल की पार्टी क्रिश्चियन डेमोक्रेटिक यूनियन यानी सीडीयू को पहले से ही इन दो राज्यों में विरोधी दलों के काफी लोकप्रिय गवर्नर्स से कड़ी चुनौती का सामना करना पड रहा है.


टीवी चैनलों के एग्जिट पोल में साफ दिख रहा है कि बैडेन-वुएर्टेमबर्ग में पर्यावरणवादी ग्रीन पार्टी और राइनलैंड-पैलेटिनेट में सेंटर लेफट सोशल डेमोक्रेट पार्टी यानी एसपीडी साफ जीत की तरफ हैं. दोनों जगह सीडीयू 8 प्रतिशत मतों से पीछे है.



बैडेन-वुएर्टेमबर्ग में ग्रीन पार्टी को 31.5 फीसदी मत मिले हैं, जबकि 2016 के चुनाव में 27 फीसदी वोट लाने वाली सीडीयू को 23 फीसदी. वहीं राइनलैंड-पैलेटिनेट में सीडीयू की प्रतिद्वंद्वी एसपीडी को 35.5 फीसदी वोट मिले हैं.अगर नतीजे पोल के मुताबिक ही आए तो दूसरे विश्व युद्ध के बाद से दोनों राज्यों में सीडीयू का सबसे खराब प्रदर्शन होगा.