बर्बाद हो गईं डेढ़ करोड़ Corona Vaccine

इसके चलते कोरोना प्रकोप के फिर से हुए उभार के बीच अब ज़रूरतमंद देशों तक कोरोनावैक्सीन के शिपमेंट्स के पहुंचने में और देरी होगी.

- Khidki Desk

अमेरिका के बाल्टिमोर, मैरीलैंड में एमर्जेंट बायोसॉल्युशंस की ओर से चलाए जा रहे एक प्रोडक्शन प्लांट में कर्मचारियों की ग़लती से कोरोनावायरस की तक़रीबन डेढ़ करोड़ डोज़ बर्बाद हो गई हैं. इस प्लांट में Johnson & Johnson कोरोना वैक्सीन की डोज़ बनाई जा रही थी.


भूल से वैक्सीन के अवयवों में कुछ दूसरे कैमिकल्स भी घुल गए और सारी वैक्सीन्स बर्बाद हो गई.​ अमेरिकी अधिकारियों ने इसे ग़लती को मानवीय भूल क़रार दिया है.


इसके चलते कोरोना प्रकोप के फिर से हुए उभार के बीच अब ज़रूरतमंद देशों तक कोरोनावैक्सीन के शिपमेंट्स के पहुंचने में और देरी होगी.

अमेरिकी अख़बार न्यूयॉर्क टाइम्स ने इस घटना से जुड़ी ख़बर में लिखा है कि इसके चलते पहले से ही देश भर में आपूर्ति के लिए ​निकल चुकी वैक्सीन्स पर तो कोई असर नहीं पड़ेगा, लेकिन कुछ समय के लिए करोड़ों वैक्सीन्स की नई आपूर्ति रुक जाएगी. अब तक यह अनुमान नहीं लगाया जा सका है कि यह आपूर्ति कितने लंबे समय तक बाधित रहेगी.


अपने एक बयान में कंपनी ने कहा है कि ''क्वालि​टी कंट्रोल प्रक्रिया से पता चला है कि ड्रग के एक बैच में ऐसी चीज़ें मिली हुई हैं जो कि क्वालिटी स्टैंडर्ड्स से मेल नहीं खाती.'' हालांकि आधिकारित तौर पर यह नहीं बताया गया है कि इसके चलते कुल कितनी डोज़ बर्बाद हुई हैं. लेकिन न्यूयॉर्क टाइम्स ने सूत्रों के आधार पर बताया है कि तक़रीबन डेढ़ करोड़ वैक्सीन डोज़ बर्बाद हुई हैं.


Johnson & Johnson की इस सिंगल डोज़ वैक्सीन ने अमेरिका में कोरोनावायरस के टीकाकरण अभियान में तेज़ी लाने में बड़ा योगदान दिया है. Centers Disease Control and Prevention (CDC) के आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में अब तक 15 करोड़ से अधिक वैक्सीन्स इस्तेमाल की जा चुकी हैं ​और 5 करोड़ 4 लाख लोगों का पूरी तरह टीकाकरण हो चुका है. साथ ही पूरे देश भर में अब तक तक़रीबन 20 करोड़ वैक्सीनों की आपूर्ति की जा चुकी है.


SUPPORT US TO MAKE PRO-PEOPLE MEDIA WITH PEOPLE FUNDING.

Subscribe to Our Newsletter

© Sabhaar Media Foundation

  • White Facebook Icon

Nainital, India