दुर्घटनाग्रस्त प्लेन का ब्लैक बॉक्स बरामद

कराची में जिन्ना पार्क के जिस रिहायशी इलाक़े में शुक्रवार को प्लेन क्रैश हुआ था वहां से फ्लाइट डाटा रिकॉर्डर और कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर को बरामद कर लिया गया है. इसके ज़रिए प्लेन के क्रैश होने की वजहों का पता लगाया जा सकेगा.

- Khidki Desk


शुक्रवार को यह हादसा तब हुआ जब पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस यानी पीआईए का विमान A320 कराची हवाई अड्डे पर लैंडिंग से कुछ ही किलोमीटर पहले दुर्घटनाग्रस्त हो गया. सिंध प्रांत के स्वास्थ्य अधिकारियों अनुसार, इस विमान में क्रू सदस्यों समेत कुल 99 लोग सफ़र कर रहे थे जिसमें 97 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है.


यह विमान लाहौर से रवाना हुआ था और इसे शुक्रवार दोपहर में कराची के जिन्ना अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरना था. लेकिन लैडिंग से ठीक पहले इसमें कुछ तकनीकी ख़राबी आई जिसके बाद यह एयरपोर्ट के पास स्थित जिन्ना गॉर्डन इलाके की इमारत से टकरा गया.


इधर फेडरल पब्लिक सर्विस कमीशन इस्लामाबाद ने एक ट्वीट किया है जिसमें इस दुर्घटना में किसी तरह बच गए मुहम्मद ज़ुबैर ने हादसे के पलों को बयान करते हुए बताया,


''जब मेरी आंखें खुली तो हर तर​फ़ आग ही आग थी. चीख़ पुकार की आवाज़ें आ रही थी. मैंने अपनी सीट बेल्ट खोली. एक तरफ़ से रोशनी आ रही थी मैं उस तरफ गया और बाहर निकल पाया.''

इसबीच विमान दुर्घटना पर गहरा दुःख जताते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस हादसे की तत्काल जांच के आदेश दिए हैं. उन्होंने पूरी दुनिया से इस हादसे पर आई प्रतिक्रियाओं और शोक संदेशों के लिए भी आभार प्रकट किया है.


बता दें कि कोरोना महामारी के बीच पाकिस्तान में कुछ ही दिनों पहले विमान सेवाएं बहाल की गई थीं. इस दुर्घटना के कारण का अब तक कोई पता नहीं चल सका है. दुर्घटना से ठीक पहले विमान के पायलट ने एक आपातकालीन संदेश भेजा था जिसमें वह यह कहते सुने जा सकते हैं कि विमान के इंजन पूरी तरह ख़राब हो चुके हैं.


पीआईए के अधिकारियों ने बताया है कि हादसे का शिकार होने वाले इस विमान की गुणवत्ता का पिछले साल नवंबर में परीक्षण हुआ था. माना जा रहा है कि जांचकर्ता ब्लैक बॉक्स से दुर्घटना के कारण का पता करने की कोशिश करेंगे.

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©