काबुल की मस्जिद में विस्फ़ोट, इमाम समेत चार की मौत

हालांकि किसी भी समूह ने तुरंत हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है. वहीं तालिबान ने बिना देर किए इस हमले के पीछे अपना हाथ होने से इनकार किया.


- Khidki Desk



अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी क़ाबुल की एक मस्ज़िद में शुक्रवार की नमाज़ के दौरान बम विस्फ़ोट हुआ. इसमें कम से कम चार लोगों की मौत हो गई और आठ लोग गंभीर रूप से जख़्मी बताए जा रहे हैं.


अफ़ग़ानिस्तान के आंतरिक मंत्रालय ने पुष्टि करते हुए कहा कि विस्फ़ोट में मारे गए चार लोगों में ज़ुमे की नमाज पढ़ा रहे इमाम अजीज़ुल्लाह मोफ़लेह भी शामिल हैं और कई अन्य घायल हैं. मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि शुक्रवार की नमाज़ के दौरान शेरशाह सूरी मस्ज़िद के अंदर रखा विस्फ़ोटक फट गया.


गृह मंत्रालय के प्रवक्ता तारिक़ अरियान ने कहा कि पुलिस ने इस इलाक़े को घेर लिया है और घायलों को एंबुलेंस से आसपास के अस्पतालों तक ले जाने में मदद की है. अरियान ने समाचार एजेंसी अनादोलु को बताया कि यह घटना शहर के पॉश, कर्ता-4 इलाके में हुई.



हालांकि किसी भी समूह ने तुरंत हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है. वहीं तालिबान ने बिना देर किए इस हमले के पीछे अपना हाथ होने से इनकार किया. बता दें कि इस महीने की शुरुआत में एक मस्ज़िद पर हमले का दावा इस्लामिक स्टेट समूह से संबद्ध था, जिसका मुख्यालय पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान के नंगरहार प्रांत में है. उस हमले में अफ़ग़ानिस्तान के जाने-माने धर्मगुरु मौलवी अयाज़ नियाज़ी की मौत हो गई थी.

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©