ब्राजील में गहरा रहा कोरोना का संकट

Updated: Jun 20, 2020

अमेरिका के बाद ब्राजील दूसरा ऐसा देश बन गया है, जहां संक्रमण के मामले 10 लाख की संख्या को पार कर लेंगे। कोरोना से होने वाली मौतों के मामले में भी ब्राजील अमेरिका के बाद दूसरे नंबर पर है।

khidki desk



ब्राजील में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। ब्राजील के स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश में कोरोना से 47,869 मौतें और 9,83,359 मामले होने की पुष्टि की है।


मंत्रालय ने यह भी पुष्टि की है कि देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। बता दें कि अमेरिका के बाद ब्राजील दूसरा ऐसा देश बन गया है, जहां संक्रमण के मामले 10 लाख की संख्या को पार कर लेंगे।


कोरोना से होने वाली मौतों के मामले में भी ब्राजील अमेरिका के बाद दूसरे नंबर पर है। ब्राजील में कोरोना के मामलों में लगतार हो रही बढ़ोतरी के बाद बीते दिनों में ब्राजील में हुए घटनाक्रमों पर एक निगाह डालना जरूरी हो जाता है।


राष्ट्रपति बोलसोनारो राज्यों में कोरोना वायरस के कारण लगाए जा रहे प्रतिबंधों का पहले से ही विरोध कर रहे थे और अपने समर्थकों के साथ दैहिक दूरी के नियम को दरकिनार करते हुए विरोध प्रदर्शनों में शामिल होकर सामाजिक दूरी और लॉकडाउन के प्रतिबंधों का मखौल उड़ाते दिखे थे।


बोल्सोनारो ने कोरोना वायरस को मामूली फ्लू तक भी कहा था। इसके अलावा ब्राजील में सरकार द्वारा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा के इस्तेमाल को भी हरी झंडी दे दी गई थी, जिसे डब्ल्यूएचओ समेत विश्व के कई मेडिकल और रिसर्च संस्थानों ने कोरोना के लिए कारगर दावा नहीं माना है।


विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी कुछ हफ्तों पहले ब्राजील के हालात पर चिंता जताई थी और एक अध्ययन के आधार पर कहा था कि यहां अगस्त की शुरूआत तक मरने वालों की कुल संख्या में लगातार बढ़ोतरी होगी।