हिटलर के जर्मनी में बदलता बोलसोनारो का ब्राज़ील

ब्राज़ील के सुप्रीम कोर्ट के एक जस्टिस ने चिंता जताते हुए कहा है कि ब्राज़ील का लोकतंत्र, हिटलर के जर्मनी में बदलता जा रहा है. इसके ख़िलाफ़ बोलसोनारो और उनके समर्थक प्रदर्शन कर रहे हैं.

-Khidki Desk



यह ताज़ा प्रदर्शन असल में सुप्रीमकोर्ट के एक जस्टिस के बयान के बाद उभर कर आया, जिसमें उन्होंने राष्ट्रपति बोलसोनारो के नेतृत्व में 'ब्राज़ील के लोकतंत्र' के 'हिटलर के जर्मनी' में तब्दील होते जाने पर चिंता ज़ाहिर की थी.


घोड़े पर सवार होकर ब्राज़ील के राष्ट्रपति जैयर बोलसोनारो अपने समर्थकों के साथ ब्राज़ील के सुप्रीमकोर्ट के ख़िलाफ़ आयोजित एक प्रदर्शन में शिरक़त करने राजधानी ब्रा​ज़ीलिया की सड़कों पर उतरे. यह ताज़ा प्रदर्शन असल में सुप्रीमकोर्ट के एक जस्टिस के बयान के बाद उभर कर आया, जिसमें उन्होंने राष्ट्रपति बोलसोनारो के नेतृत्व में 'ब्राज़ील के लोकतंत्र' के 'हिटलर के जर्मनी' में तब्दील होते जाने पर चिंता ज़ाहिर की थी.


यहां बोलसोनारो ने मीडिया से कहा —

"हम ब्राज़ीलिया में हैं. ब्रा​ज़ीलिया के लोगों के साथ जो कि स्वाभाविक रूप से प्रदर्शन करने उतर आए हैं. लोकतंत्र के लिए. आज़ादी के लिए.. ये वे लोग हैं जो असल में चाहते हैं कि ब्राज़ील आगे बढ़े.. आगे.. दूसरे सभी लोगों से आगे.."

बोलसोनारो के समर्थकों की यह रैली सु्प्रीमकोर्ट की ओर से जारी उस एडवाइज़री का विरोध करने के लिए आयोजित थी जिसमें कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग को बरक़रार रखने के लिए दिशानिर्देश दिए गए हैं. बोलसोनारो और उनके समर्थक शुरुआत से ही कोरोनावायरस के लिए लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग के बरतने के नियमों का विरोध करते रहे हैं और लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं.


रैली में बोलसोनारो ने अपने ख़िलाफ़ सु​प्रीमकोर्ट की ओर से एक गठित जांच को फिर से ग़लत बताया. सुप्रीमकोर्ट में बोलसोनारो के ख़िलाफ़ एक मामले की जांच चल रही है जिसमें उनपर आरोप है कि उन्होंने अपने निजी हितों के लिए देश की संघीय पुलिस के काम में हस्तक्षेप किया. बोलसोनारो पर यह आरोप उनके पूर्व न्याय मंत्री सेरियो मोरो ने अपना इस्तीफ़ा देते वक़्त लगाते हुए कहा था कि उन्होंने उनसे संघीय पुलिस प्रमुख को बदलकर अपने किसी पसंदीदा व्यक्ति को प्रमुख बनाने की बात कही थी.


उसके बाद एक वीडियो भी सामने आया था जिसमें एक कैबिनेट मीटिंग के दौरान वह यह कहते हुए नजर आए कि अपने बेटों को जांच से बचाने के लिए उन्हें रियो डी जेनेरो के संघीय पुलिस प्रमुख को अपने पद से हटाना होगा.


इधर कोरोना वायरस का नया एपीसेंटर बन गए ब्राज़ील में, हर रोज़ होने वाली मौतों की संख्या में लगातार इज़ाफ़ा हो रहा है. ब्राज़ील के स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को कोरोना वायरस से 480 लोगों की मौत होने की सूचना दी है. ब्राज़ील में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों की संख्या, अब 29,314 पहुंच गयी है, जो कि,अमेरिका, ब्रिटेन और इटली के बाद चौथे नंबर पर है. संक्रमणों के मामले में भी ब्राज़ील अमेरिका के बाद दूसरे नंबर पर है, यहाँ कुल संक्रमणों के 5 लाख से ज्यादा मामले दर्ज किये गए हैं.


हालांकि शुरुआत से ही लॉकडाउन का विरोध कर रहे राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो ने, ब्राजील में मौतों की संख्या में लगातार इज़ाफ़ा होने के बाद अब अपने उस बयान को वापस ले लिया है, जिसमे उन्होंने कोरोना को “मामूली फ़्लू” कहा था.