कोराना की दूसरी लहर से निपटने की तैयारी में चीन

चीन ने जिलिन शहर की सीमाओं को बंद कर दिया है. वुहान और दूसरे ​इलाक़ों में भी बढ़ाई गई सख़्ती.

- Khidki Desk

चीन में कोरोना वायरस की दूसरी लहर आने के डर से चीन के जिलिन शहर ने अपनी सीमाओं को आंशिक रूप से बंद कर दिया है, और सभी परिवहन गतिविधियों और सार्व​जनिक जुटान पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. अधिकारियों ने कहा है कि, केवल उन्हीं निवासियों को शहर छोड़ने की अनुमति दी जाएगी जिनका पिछले 48 घंटों में COVID- 19 का टेस्ट निगेटिव आया हो और साथ ही उन्होंने 48 घंटे तक कड़ा सेल्फ़ आइसोलेशन किया हो. स्थानीय सरकार ने अपने एक बयान में कहा .

" सिनेमाघरों, इनडोर जिम, इंटरनेट कैफे और अन्य सभी मनोरंजन स्थलों को तुरंत बंद किया जायेगा, और सभी फार्मेसियों को बुख़ार और एंटीवायरल दवाओं की बिक्री की रिपोर्ट सरकार को देनी होगी.”

जिलिन शहर के वाइस मेयर ने बुधवार को चेतावनी दी थी कि सप्ताह के अंत तक में शुलान के उपनगर में कोरोना वायरस के संक्रमण का सबसे ज्यादा खतरा है, उन्होंने कहा

"स्थिति पहले भी बहुत गंभीर और जटिल थी" और "आगे भी इसके फैलने का बड़ा खतरा है."

बता दें कि शहर में कोरोना के 6 नए मामलों की पुष्टि हुई है और सभी मामले शुलान से जड़े है.

उधर हॉंगकॉंग में भी पिछले तीन हफ़्तों के बाद पहली बार दो नए कोरोनावायरस संक्रमण के मामले देखे गए हैं। अधिकारियों ने बताया है कि संक्रमित लोगों ने विदेशी यात्रा नहीं की थी और वे संक्रमण के स्रोत का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं. हॉंगकॉंग भी उन शहरों में शुमार है जिसने सबसे बढ़िया तरह से संक्रमण पर क़ाबू पाया है. नए संक्रमण के मामले नहीं आने के चलते शहर में बार, जिम, सिनेमाघरों को दोबारा से खोला गया था और इस महीने के आख़िर तक स्कूलों को भी खोलने की तैयारी की जा रही थी.

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©