'चीन बना रहा परमाणु हथियारों को दोगुना करने की योजना' : पैंटागन

पैंटागन की ओर से चीन की सैन्य क्षमताओं पर अमेरिकी कॉंग्रेस के लिए बनाई गई एक सालाना रिपोर्ट में पहली बार चीन के न्यूक्लियर हथियारों की संख्या को शामिल किया गया है. Federation of American Scientists ने अनुमान लगाया है कि चीन के पास अभी तक़रीबन 320 परमाणु हथियार हैं.

- Khidki Desk




अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने दावा किया है कि चीन अगले 10 सालों में अपने परमाणु ​हथियारों को कम से कम दोगुना कर लेने की योजना बना रहा है और वह अपनी क्षमता को तक़रीबन इतना बढ़ा चुका है कि वह ज़मीन, हवा और समुद्र तीनों जगहों से न्यूक्लियर लॉंच कर सकता है. जिसे ट्रियाड कहा जाता है.


पैंटागन की ओर से चीन की सैन्य क्षमताओं पर अमेरिकी कॉंग्रेस के लिए बनाई गई एक सालाना रिपोर्ट में पहली बार चीन के न्यूक्लियर हथियारों की संख्या को शामिल किया गया है. Federation of American Scientists ने अनुमान लगाा है कि चीन के पास तक़रीबन 320 परमाणु हथियार हैं.


पैंटागन ने कहा है कि चीनी परमाणु हथियारों के बढ़ाए जाने का यह अनुमान कई कारणों से लगाया गया है जिसमें एक कारण यह भी है कि चीन के पास परमाणु हथियार की अपनी क्षमता को दोगुना करने के बराबर की सामग्री पहले से ही मौजूद है. उसे इसके लिए फिज़िल मटीरियल का उत्पादन नहीं करना है.


डिफेंस फॉर चाइना के deputy assistant secretary चाड स्ब्रेजिया ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा, ''हम निश्चित रूप से चीनी परमाणु हथियारों की संख्या को लेकर चिंतित हैं.. लेकिन साथ ही चीन के परमाणु विकास कार्यक्रम के इरादे और भी बड़े हैं.''


पैंटागन की ओर से यह सालाना रिपोर्ट उसक वक़्त आई है जब कि अमेरिकी कॉंग्रेस में चीन के साथ बढ़ रहे तनाव के बीच 700 अरब डॉलर्स के रक्षा प्राधिकरण विधेयक पर चर्चा होना बाक़ी है. इस विधेयक में 700 अरब डॉलर्स की जिस राशि का ज़िक्र हैं वह चीन के सालाना रक्षा बजट से तक़रीबन तीन गुना ​ज़्यादा है. कहा जा रहा है कि राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प की रिपब्लिकन पार्टी के नेता इस बजट के ज़रिए अमेरिका की कुछ संभावित परमाणु कार्यक्रमों की टैस्टिंग कराना चाहते हैं ज​बकि डैमोक्रेट्स ने इसका विरोध किया है.

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©