हॉंगकॉंग में चीन ने खोला सेफ़गार्ड नैश्नल सिक्योरिटी ऑफ़िस

हॉंगकॉंग के चीफ़ एक्ज़िक्यूटिव कैरी लैम ने इसे एक ऐतिहासिक क्षण बताया है. उन्होंने उद्घाटन समारोह में बोलते हुए कहा, ''हॉंगकॉंग के नागरिक, हॉंगकॉंग में राष्ट्रीय सुरक्षा और क़ानून व्यवस्था की स्थापना के लिए एक मील के पत्थर के गवाह बन रहे हैं.''

- Khidki Desk




विवादित रहे नैश्नल सिक्युरिटी क़ानून के लागू होने के बाद अब चीन ने हॉंग कॉंग में सेफ़गार्ड नैश्नल सिक्योरिटी का ऑफ़िस खोला है.


विक्टोरिया पार्क इलाक़े में, प्रो-डैमोक्रेसी प्रदर्शनों के हॉटस्पॉट और 1989 के तिआनान्मैन स्वायर की याद में हर साल आयोजित होने वाले जुलूस स्थल के पास ही मौजूद एक होटल मैट्रोपार्क को सिक्योरिटी ऑफ़िस के हैडक्वार्टर्स में बदला गया है.


हॉंगकॉंग के चीफ़ एक्ज़िक्यूटिव कैरी लैम ने इसे एक ऐतिहासिक क्षण बताया है. उन्होंने उद्घाटन समारोह में बोलते हुए कहा, ''हॉंगकॉंग के नागरिक, हॉंगकॉंग में राष्ट्रीय सुरक्षा और क़ानून व्यवस्था की स्थापना के लिए एक मील के पत्थर के गवाह बन रहे हैं.''


हॉंग कॉंग के लिए चीन की ओर से लाया गया राष्ट्रीय सु​र​क्षा क़ानून क़ाफ़ी विवादित रहा है. हॉंग कॉंग में लोकतंत्र समर्थक और दुनिया भर के कई देश इसका विरोध करते रहे हैं. उनका मानना है कि यह क़ानून हॉंग कॉंग के अंतर्राष्ट्रीय शहर के विशेष दर्जे और इसकी स्वायत्ता को ख़त्म कर देगा.


वहीं चीन दोहराता रहा है कि हॉंग कॉंग उसका अंदरूनी मामला है और बाहरी ताक़तों को इस मामले में दख़लअंदाज़ी नहीं करनी चाहिए.

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©