अमेरिका में पुलिस सुधार पर बहस

इस सिलसिले में डेमोक्रेट सांसदों ने संसद में पुलिस सुधारों से जुड़े एक बड़े क़ानून का मसौदा पेश किया है. जिसे राष्ट्रपति ट्रम्प ने ख़ारिज़ किया है.

- अभिनव श्रीवास्तव


अमेरिका में काले नागरिक ज्यार्ज फ़्लॉइड की हत्या के बाद नागरिक समाज के हिस्से में उभरे गुस्से का नतीजा कुछ बड़े बदलावों में तब्दील होता दिख रहा है. इस सिलसिले में डेमोक्रेट सांसदों ने संसद में पुलिस सुधारों से जुड़े एक बड़े क़ानून का मसौदा पेश किया है.


अगर यह क़ानून का रूप लेता है तो अमेरिकी पुलिस की नस्लभेदी कार्रवाइयों और दुर्व्यवहार के ख़िलाफ़ मुकदमा चलाना आसान हो जाएगा. इस मसौदे के अनुसार, पुलिस को मनमाने ढंग से छापेमारी और लोगों से पूछताछ करने का अधिकार नहीं होगा.


हालांकि इस बात की उम्मीद कम है कि अमेरिकी संसद कांग्रेस में बहुमत वाले रिपब्लिकन सांसद इस मसौदे का समर्थन करेंगे. अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने ट्वीट कर पहले ही इस मसौदे को पुलिस को अपमानित करने वाला बता दिया है. ​पुलिस महकमे में किसी भी बड़े बदलाव के विचार को ख़ारिज़ करते हुए उन्होंने कहा:


''पुलिस ग़ज़ब का काम करती रही है. उन्होंने अपराधों को कम करने के कई रिकॉर्ड तोड़े हैं. हम इस पर बात कर सकते हैं, इस पर काम कर सकते हैं कि कैसे इसे बेहतर किया जाए. अगर संभव हो तो कैसे इस और सभ्य बनाया जाए. और यहां जैसा हुआ ऐसा फिर ना हो. और भी कई ऐसी चीज़ हैं जो नहीं होनी चाहिए. लेकिन हम दुनिया भर की सबसे बढ़िया क़ानून लागू करने वाली फ़ोर्स को ऐसे ही नहीं छोड़ सकते.''


बता दें कि पुलिस सुधार के मुद्दे पर ही ज्यार्ज फ़्लॉइड के भाई को इस हफ़्ते के आख़िर में हॉउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव के सामने पेश होना है. इधर ख़बरों के अनुसार, बीते रविवार को हुई एक बैठक में मिनिआपोलिस शहर परिषद के सदस्यों ने भी एक बड़े बदलाव का संकेत देते हुए शहर के पुलिस विभाग को बर्खास्त कर नई व्यवस्था लाने पर बातचीत की.


हालांकि अमेरिकी फेडरल पुलिस के तौर-तरीकों में सुधार को लेकर तेज हो रही इन मांगों के बीच एक ख़बर ये भी है कि ज्यार्ज फ़्लॉइड की हत्या में शामिल पुलिस अधिकारी डेरेक शॉविन के लिए जमानत के मुचलके की राशि 1.25 मिलियन डॉलर यानी लगभग साढ़े नौ करोड़ रुपए निर्धारित की गई है. शॉविन ने ही फ़्लॉइड की गर्दन को दबाकर रखा था जिसके बाद दम घुटने के चलते उनकी मौत हो गई थी.


ग़ौरतलब है कि नस्लभेद के ख़िलाफ़ बीते दिनों अमेरिका और दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में प्रतीक बनकर उभरे फ़्लॉइड को मंगलवार को दफ़नाया जाएगा. इस मौके पर उनको अंतिम विदाई देने के लिए ह्यूस्टन के चर्च में हज़ारों लोग जमा हुए. फ़्लॉइड के परिवार के साथ-साथ उन लोगों ने भी इस मौक़े पर अपनी मौजूदगी दर्ज़ कराई जिनके परिवार के लोगों को फ़्लॉइड की तरह ही अतीत में नस्लभेद की वज़ह से अपनी जान गंवानी पड़ी.

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©