फ़ेसबुक ने बैन किए बूगालू मूवमेंट से जुड़े कई ग्रुप्स और पेज

फ़ेसबुक ने यह क़दम बूगालू के हिंसक समर्थक, गोरे वर्चस्ववादियों को इस्लामिक स्टेट के समकक्ष मानकर उठाया है.

- Khidki Desk

Representative Image

फ़ेसबुक ने मंगलवार को बुगालू आंदोलन से जुड़े करीब 220 फेसबुक अकाउंट्स, 95 इंस्टाग्राम अकाउंट्स, 28 पेज और 106 ग्रुप को हटा दिया है.


बुगालू शब्द का इस्तेमाल इसके समर्थक, दुसरे अमेरिकी गृह युद्ध या सभ्यता के विघटन के संदर्भ में करते हैं और बेहद छितरे तौर पर लोग इससे जुड़े हैं..


फ़ेसबुक ने यह क़दम बूगालू के हिंसक समर्थक, गोरे वर्चस्ववादियों को इस्लामिक स्टेट के समकक्ष मानकर उठाया है. हालांकि फ़ेसबुक का कहना है की वह बुगालू मूवमेंट से जुड़े सारे एकाउंट्स को नहीं बल्कि बस उन एकाउंट्स, ग्रुप्स और पेजों बैन किया गया है जिसमें हिंसा का साफ़ तौर पर समर्थन किया गया हो या वह आम जनता की सुरक्षा के लिए ख़तरा पैदा करता हो.


फेसबुक का कहना है की यह मूवमेंट करीब 2012 से सक्रिय है और वह पिछले एक साल से इस पर नज़र बनाये हुए है. covid 19 की वजह से लगाए लॉकडाउन के विरोध में भी इस मूवमेंट से जुड़े लोगों ने हथियारों के साथ प्रदर्शन किया था.


Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©