धधकती अमेजन आग से निपटने आगे आए G7 देश

अमेजन के वर्षावनों में धधक रही आग पूरी दुनिया के पर्यावरण के लिए भीषण ख़तरा मानी जा रही है. कहा जा रहा है कि यह दुनिया के 'फेफड़ों में आग' लगने की तरह है.

- Khidki Desk

दुनिया भर में छाई अमेजन वर्षावनों की भीषण आग की ख़बरों के बीच इससे निपटने के लिए G7 समिट में जुटे देश हाथ आगे बढ़ा रहे हैं. G7 देशों - अमेरिका, जापान, जर्मनी, फ्रांस, इटली, ब्रिटेन और कनाडा - के नेताओं की एक बैठक फ्रांस के समुद्रतटीय शहर बिएरित्ज़ में हो रही है.


बीबीसी की एक ख़बर के मुताबिक़ फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने इस बात की पुष्टि की है कि आग से निपटने के लिए अमेजन देशों को 'तकनीकी और वित्तीय मदद' मुहैया कराए जाने पर एक क़रार होने वाला है.


अमेजन के वर्षावनों में धधक रही आग पूरी दुनिया के पर्यावरण के लिए भीषण ख़तरा मानी जा रही है. कहा जा रहा है कि यह दुनिया के 'फेफड़ों में आग' लगने की तरह है.


इधर इस आग के लिए ब्राज़ील के राष्ट्रपति की नितियों को दोषी बताया जा रहा है जिसके तहत हर रोज़ तक़रीबन 1 फुटबॉल मैदान के बराबर अमेजन जंगलों को लकड़ी, वन्य संपदा और भूमि के लालच में तबाह किया जा रहा था.


हालांकि राष्ट्रपति इन आरोपों से लगातार इनकार कर रहे थे. उन्होंने एनजीओज़ पर उनके ख़िलाफ़ साजिश करने और जंगलों में आग लगाने के आरोप भी लगाए थे. हालांकि अब अंतराष्ट्रीय दबाव के चलते ब्राज़ील ने आग पर क़ाबू पाने के लिए अमेजन जंगलों में सेना की तैनाती की है.

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©