'युद्ध-वीराम का सख़्ती से पालन करेंगी भारत-पाक सेनाएं'

दक्षिण एशिया के इन दो परमाणु शक्ति संपन्न पड़ोसी देशों के इस ताज़ा क़दम कोे उनके संबंधों में जमी बर्फ़ के पिघलने के तौर पर देखा जा रहा है.

- Khidki Desk

Representative Image

भारत और पाकिस्तान की सेनाएं विवादित कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर युद्धविराम का सख़्ती से पालन करने पर सहमत हो गई हैं.


दक्षिण एशिया के इन दो परमाणु शक्ति संपन्न पड़ोसी देशों के इस ताज़ा क़दम कोे उनके संबंधों में जमी बर्फ़ के पिघलने के तौर पर देखा जा रहा है.


पाकिस्तानी सेना की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि दोनों देशों की सेनाओं के डाइरेक्टर जनरल आफ मिलिटी ऑपरेशंस यानी डीजीएमओ के बीच बृहस्पतिवार को हाॅट लाइन के ज़रिये इस मामले में बातचीत हुई.


बयान के मुताबिक़ दोनों पक्ष इस बात पर सहमत हुए हैं कि मुद्दों पर आपसी समझ और तमाम समझौतों के साथ ही युद्धविराम का कड़ाई से पालन करेंगे और यह शुक्रवार से प्रभावी माना जाएगा.


बताया जा रहा है कि यह बातचीत कापफी खुले और सदभाव भरे माहौल में हुई.


ग़ौरतलब है कि पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर और भारत प्रशासित कश्मीर को बांटने वाली नियंत्रण रेखा पर युद्धविराम का समझौता 2003 से ही प्रभावी है, लेकिन अक़्सर दोनों तरफ से इसका उल्लंघन करने की घटनाएं देखी जाती रही हैं. इसके नतीज़े में दोनों तरफ सैनिकों और आम नागरिकों की जानें जाती रहती हैं.