क्या टाइम ट्रेवलर हैं ग्रेटा थनबर्ग?

दुनिया भर में आॅनलाइन वायरल हो रही इस 121 साल पुरानी तस्वीर को कई लोग यह कहते हुए शेयर कर रहे हैं कि ग्रेटा थनबर्ग एक टाइम ट्रेवलर है और दुनिया को बचाने के लिए आई है.

- Khidki Desk


इस तरह के संयोग आपको आकर्षित करते हैं. क्लाइमेट चेंज को लेकर दुनिया भर के सत्तारूढ़ों से सीधे-सीधे सवाल कर चर्चा में आईं ग्रेटा थनबर्ग फिर सुर्ख़ियों में हैं. इस बार वजह बनी है 1898 में खींची गई एक तस्वीर जिसमें हू-ब-हू ग्रेटा थनबर्ग की हमशक़्ल दिखाई दे रही है.


दुनिया भर में आॅनलाइन वायरल हो रही इस 121 साल पुरानी तस्वीर को कई लोग यह कहते हुए शेयर कर रहे हैं कि ग्रेटा थनबर्ग एक टाइम ट्रेवलर है और दुनिया को बचाने के लिए आई है.


यह तस्वीर यूनिवर्सिटी आॅफ वॉशिंगटन के एक ख़ास संग्रह में मौजूद थी. तस्वीर में तीन बच्चे क्लोंडाइक गोल्ड रश के दौरान सोने की तलाश में खुदाई कर रहे हैं. इस तस्वीर को उत्तरपूर्वी कनाडा की यूकोन टे​रेटरी में एरिक ए. हेग नाम के एक फ़ोटोग्राफर ने खींचा था.


इस तस्वीर में सबसे आगे बैठी हुई बच्ची ​हू-ब-हू, 16 साल की ग्रेटा थनबर्ग की तरह दिखाई दे रही है. ट्वीटर पर वायरल हो गई इस तस्वीर के बारे में एक कॉंस्पिरेसी थ्येरी चल निकली है कि ग्रेटा टाइम ट्रेवलर हैं. हालांकि ऐसा लिख कर शेयर करने वाले लोग बहुत गंभीरता से इस बात को नहीं कह रहे बल्कि उनकी टोन इसे संयोग मानते हुए पर्यावरण सं​बंधी ग्रेटा की मुहीम का समर्थन करना है.


एक ट्वीटर यूजर ने तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा, '' तो अब 'ग्रेटा थनबर्ग' एक ऐसी तस्वीर में हैं जो कि 120 साल पुरानी है, और अब यह मेरी नई फ़ैबरेट कॉंस्पिरेसी है. ग्रेटा भविष्य से आई एक टाइम ट्रेवलर है, और वो यहां हमें बचाने आई हैं.''




हालांकि यह तस्वीर ग्रेटा से इतना मेल खाती है कि कई लोग यह भी कह रहे हैं कि यह एडिटेड तस्वीर है. दुनिया भर में पर्यावरण और क्लाइमेट चेंज के ख़तरों के प्रति जागरुकता फ़ैलाने की मुहीम में ग्रेटा थनबर्ग पिछले दिनों चर्चा में आया ऐसा रहा है जिसे पूरी दुनिया ने गंभीरता से सुना है. देखें इस बारे में कुछ और ट्वीट्स:



 



Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©