ख़ुफ़िया तरीक़े से न्यूक्लियर साइट बना रहा इसराएल, सैटेलाइट तस्वीरें जारी

इसराएल ने कभी भी आधिकारिक तौर पर परमाणु हथियार होने का दावा स्वीकार नहीं किया है. जबकि व्यापक तौर पर माना जाता रहा है कि 1950 के दशक में ही इसराएल ने फ़्रांस के सहयोग से अपने न्यूक्लियर हथियार बनाने के प्रोग्राम की ख़ुफ़िया शुरुआत कर दी थी.

- Khidki Desk

Representative Image

ईरान के साथ जारी तनाव के बीच इसराएल के सीक्रेट न्यूक्लियर फ़ैसिलिटी की सैटेलाइट तस्वीरें सामने आई हैं. समाचार ऐजेंसी एपी की ओर से जारी की गई इन तस्वीरों के बारे में कहा गया है कि यह बीते दशकों में सबसे बड़ा कंस्ट्रक्शन प्रोजेंक्ट है जो कि भूमिगत् तौर पर कई मंज़िला नज़र आता है.


इसराएल के Dimona शहर के पास मौजूद एक पुराने Shimon Peres Negev Nuclear Research Center के क़रीब ही यह प्रोजेक्ट नज़र आया है. हालांकि आधिकारिक तौर पर अब तक कोई जानकारी नहीं है कि यह प्रोजेक्ट किसी चीज़ का है.


इसराएल ने कभी भी आधिकारिक तौर पर परमाणु हथियार होने का दावा स्वीकार नहीं किया है. जबकि व्यापक तौर पर माना जाता रहा है कि 1950 के दशक में ही इसराएल ने Dimona शहर के पास मौजूद एक ख़ाली रेगिस्तान में फ़्रांस के सहयोग से अपने न्यूक्लियर हथियार बनाने के प्रोग्राम की ख़ुफ़िया शुरुआत कर दी थी.


माना जाता है कि Shimon Peres Negev Nuclear Research Center में ही इसराएल के पहले परमाणु बम को बनाया गया था.


यहां भूमिगत प्रयोगशालाओं की पूरी चेन स्थापित की गई है, जहां के रिएक्टर्स इसराएल के परमाणु हथियार कार्यक्रम के​ लिए प्लूटोनियम का उत्पादन कर रहे हैं.