इंडोनेशिया में मॉनसून की भारी बारिश से थमा जकार्ता


शहर के कई इलाकों में सड़कों पर गले तक पानी भर गया है. लोग शहर की गलियों में राफ्टिंग वाली नावों के सहारे आवाजाही करने को मजबूर हैं.

- Khidki Desk



इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में मॉनसून की भारी बारिश से आम जन-जीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है.


शहर के कई इलाकों में सड़कों पर गले तक पानी भर गया है. लोग शहर की गलियों में राफ्टिंग वाली नावों के सहारे आवाजाही करने को मजबूर हैं.


इन हालात में सुरक्षा बलों ने अधिक प्रभावित इलाकों से एक हज़ार से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाल लिया है. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक़ तक़रीबन एक करोड़ की आबादी वाले शहर जकार्ता के दक्षिणी और पूर्वी क्षेत्र से शनिवार को 1380 लोग निकाले गए.



जकार्ता की आपदा प्रबंधन एजेंसी के कार्यकारी प्रमुख साब्दो कुरिनियंतो ने बताया कि शहर के कई इलाकों में छह फीट की ऊंचाई तक पानी बह रहा है. हालांकि उन्होंने अब तक किसी के हताहत होने की पुष्टि नहीं की.


जकार्ता के गवर्नर एनीस बासवेदान ने टेलीविजन पर शनिवार की सुबह कहा कि लगभग दो सौ कॉलोनियों में पानी भरा है. उनके मुताबिक शहर में दो दर्जन के आसपास इवेकुएशन केंद्र बनाए गए हैं.


उन्होंने कहा कि हालांकि बारिश अभी थम गई है, लेकिन कई इलाकों में पानी भरा होने के कारण सामान्य जीवन पटरी से उतर गया है.


उम्मीद है कि जकार्ता के मध्य में मौजूद सिट सेंटर तक पानी नहीं पहुंचेगा. गवर्नर ने आशा जताई है कि एक-दो दिन में पानी उतर जाने पर लोग सामान्य जीवन जी सकेंगे.


इंडोनेशिया के मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में भारी वर्षा की चेतावनी जारी की है. ग़ौरतलब है कि जकार्ता और आसपास के इलाक़ों में अभी वर्षा का पीक सीजन चल रहा है, जो कि फ़रवरी के अंत या मार्च के शुरुआती हफ़्ते तक जारी रह सकता है.