मिताली राज ने रचा इतिहास

मिताली लखनऊ में खेले जा रहे मुक़ाबले में जैसे ही 35 के निजी स्कोर पर पहुंची उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 10 हजार रन बनाने वाली भारत की पहली और दुनिया की दूसरी महिला खिलाड़ी बनने की यह उपलब्धि हासिल कर ली.

- Khidki Desk


भारत की दिग्गज महिला क्रिकेटर मिताली राज ने शुक्रवार को इतिहास रच दिया. 38 साल की मिताली अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 10 हजार रन बनाने वाली भारत की पहली और दुनिया की दूसरी महिला खिलाड़ी बन गई हैं. मिताली ने दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ वनडे सीरीज के तीसरे मैच में यह मुक़ाम हासिल किया. वह अपना 311वां अंतरराष्ट्रीय मैच खेल रही थीं.


मिताली लखनऊ में खेले जा रहे मुक़ाबले में जैसे ही 35 के निजी स्कोर पर पहुंची उन्होंने यह उपलब्धि हासिल कर ली. इंग्लैंड की चार्लेट एडवर्ड्स अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 10 हजार रन बनाने वाली पहली महिला खिलाड़ी थीं. मिताली को उनसे आगे निकलने के लिए अब 299 रनों की ज़रूरत है.


मिताली ने वनडे में सबसे ज्यादा रन 6974 रन बनाए हैं. वह वनडे इंटरनैशनल में 7000 रन बनाने वाली पहली महिला क्रिकेटर बनने से सिर्फ 36 रन ही दूर हैं. वहीं टी20 इंटरनैशनल मैचों में उनके 2364 रन हैं. 10 टेस्ट मैचों में उनके नाम 663 रन हैं.


भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने उनकी उपलब्धि पर बधाई देते हुए ट्वीट किया, ‘क्या शानदार क्रिकेटर है. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 10,000 रन पूरे करने वाली पहली भारतीय महिला बल्लेबाज. बधाई मिताली.’


मिताली ने जून 1999 में अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर की शुरूआत की थी. उन्होंने अब तक 10 टेस्ट मैचों में 51.00 के औसत से 663 रन, वनडे में 212 मैचों में 50.53 के औसत से 6,974 और टी 20 के 89 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 37.52 के औसत से 2,364 रन बनाये हैं.


मिताली ने अपने करियर में रिकार्ड 75 अर्धशतक और आठ शतक जमाये हैं. इनमें से 54 अर्धशतक और सात शतक उन्होंने वनडे में जमाये हैं. टेस्ट मैचों में उन्होंने एकमात्र शतक (214 रन) इंग्लैंड के खिलाफ 2002 में टॉन्टन में बनाया था.