म्यांमार में हिरासत में NLD नेता की मौत

म्यांमार में सैन्य तख़्तापलट के ख़िलाफ़ जारी प्रदर्शनों के बीच, आंग सान सू की की पार्टी नैश्नल लीग फ़ॉर डैमोक्रेसी के एक ​नेता की पुलिस हिरासत में मौत होगई है. पार्टी के नेताओं ने आरोप लगाया है कि उन्हें बेहद टॉर्चर किया गया था जिससे उनकी मौत हुई.


म्यांमार में चल रही अस्थिरता के बीच, आंग सान सू की, की पार्टी नैश्नल लीग फ़ार डैमोक्रेसी, (NLD) के एक वरिष्ठ नेता, ज़ाव म्यात लिन की मंगलवार को हिरासत में मौत हो गई है. आरोप लगाए जा रहे हैं कि उन्हें बेहद टॉर्चर किया गया था.


सैन्य तख़्तापलट के ज़रिए भंग कर दी गई संसद के उच्च सदन के एक सदस्य बा म्यो थेइन ने बताया है कि ज़ाव म्यात लिन लगातार तख़्तापलट के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शनों में शामिल थे. उन्हें रंगून शहर से दोपहर के समय में पुलिस ने हिरासत में लिया था.

थेइन ने बताया है कि पिछले दो दिनों में एनएलडी के दो नेताओं की इस तरह मौत हुई है. Assistance Association for Political Prisoners ने कहा है कि सैन्य तख़्तापलट के बाद से अब तक कुल 60 प्रदर्शनकारियों की मौत हो गई है और 1800 से अधिक लोगों को पुलिस हिरासत में लिया गया है. .


इधर, म्यांमार के हालात का कवरेज़ कर रहे दर्जनों पत्रकारों और मीडिया संस्थानों पर भी सैन्य सरकार का दमन जारी है. सैन्य सरकार ने 5 मीडिया संस्थानों पर प्रदर्शनों की कवरेज़ को लेकर बैन लगा दिया है और उनके लाइसेंस ज़ब्त कर लिए हैं. जबकि, म्यांमार नाव और एसोसिएटेड प्रेस से जुड़े पत्रकारों की ग़िरफ़्तारियां हुई हैं.


इधर सोमवार को सुरक्षा बलों की ओर से हिरासत में लिए गए लगभग 200 छात्रों के समर्थन में देश के सबसे बड़े शहर रंगून में प्रदर्शन हुए. लोगों ने रात आठ बजे कर्फ़्यू का उल्लंघन किया.