फ़लिस्तीन :वैस्ट बैंक और जॉर्डन घाटी को इसराएल में मिलाने के ख़िलाफ़ प्रदर्शन

जानकार मान रहे हैं कि इस तरह की एकजुटता का मक़सद अंतरराष्ट्रीय समुदाय पर वैस्ट बैंक और जॉर्डन घाटी को इसराएल में मिलाने की योजना ख़िलाफ़ दबाव बनाना है.

- Khidki Desk



वैस्ट बैंक और जॉर्डन घाटी को एकतरफा ढंग से इसराएल में मिलाने की योजना ख़िलाफ़ फ़लिस्तीन के शहर जेरिको में कल हज़ारों लोगों ने विरोध-प्रदर्शन किया.


ख़ास बात ये रही कि बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारियों के अलावा ब्रिटेन, रूस, चीन और जापान के डिप्लोमेट्स समेत मध्य-पूर्व के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष शांति दूत निकोलाय म्लादेनॉफ़ और यूरोपीय संघ के प्रतिनिधि स्वेन क्वेह्न फॉन बर्गडॉफ भी इस मौके पर मौजूद रहे.


जानकार मान रहे हैं कि इस तरह की एकजुटता का मक़सद अंतरराष्ट्रीय समुदाय पर वैस्ट बैंक और जॉर्डन घाटी को इसराएल में मिलाने की योजना ख़िलाफ़ दबाव बनाना है.


इसराएल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू इस योजना पर 1 जुलाई से अमल की बात कह चुके हैं. इस योजना को अमेरीकी राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रम्प का समर्थन हासिल है.