लॉकडाउन के बीच रमज़ान शुरू, इंडोनेशिया में मस्ज़िद में उमड़े श्रृद्धालु

कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच इतिहास में यह पहला मौक़ा है जब लॉकडाउन की इ​तनी पाबंदियों के बीच मुसलमान समुदाय रमज़ान मना रहा है. हालांकि इंडोनेशिया से ख़बर है कि वहां रुढ़िवादी माने जाने वाले आचे प्रांत में मौजूद बैतुर्रहमान की भव्य मस्ज़िद में बृहस्पतिवार को सैकड़ों श्रद्धालु इबादत के लिए इकट्ठे हुए.

- Khidki Desk



दुनिया भर के अलग अलग देशों में लॉकडाउन के बीच ही शुक्रवार को मुसलमानों ने अपने पवित्र धार्मिक महीने रमज़ान का आग़ाज़ किया. कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच इतिहास में यह पहला मौक़ा है जब लॉकडाउन की इ​तनी पाबंदियों के बीच मुसलमान समुदाय रमज़ान मना रहा है. इस बार सउदी अरब की शीर्षस्थ धार्मिक संस्था, काउंसिल ऑफ सीनीयर स्कॉलर्स के साथ ही अन्य कई मुस्लिम संस्थाओं ने दुनिया भर के मुसलमानों से अपील की है कि वे रमज़ान के मौके पर घरों में रहकर ही इबादत करें. हालांकि इंडोनेशिया से ख़बर है कि वहां रुढ़िवादी माने जाने वाले आचे प्रांत में मौजूद बैतुर्रहमान की भव्य मस्ज़िद में बृहस्पतिवार को सैकड़ों श्रद्धालु इबादत के लिए इकट्ठे हुए. इंडोनेशिया की सरकार ने लोगों से घरों में ही ठहरने की अपील की है लेकिन तस्वीरों में दिखाई दे रहा है कि वहां परंपरागत तरीक़े से क़तारबद्ध होकर नमाज़ पढ़ी गई. इसबीच कई अरब देशों ने रमज़ान के महीने में पाबंदियों पर कुछ रियायत देने का फ़ैसला लिया है. हालांकि मिस्र में रमज़ान से जुड़ी सार्वजनिक गतिविधियों पर पाबंदी जारी रहेगी। कोराना से बुरी तरह चपेट में आए ईरान के प्रमुख अयातुल्लाह ख़मनेई ने भी देशवासियों से सार्वजनिक इबादतों से परहेज़ करने की अपील की है। पाकिस्तान में लोगों को मस्ज़िदों में जाने की इजाज़त दी गई है लेकिन उन्हें एक दूसरे से दो मीटर की दूरी का एहतियात बरतना होगा.

SUPPORT US TO MAKE PRO-PEOPLE MEDIA WITH PEOPLE FUNDING.

Subscribe to Our Newsletter

© Sabhaar Media Foundation

  • White Facebook Icon

Nainital, India