सऊदी के शाह से राष्ट्रपति बाइडेन ने की पहली औपचारिक बातचीत

राष्ट्रपति पद सम्हालने के बाद पहली बार जो बाइडेन ने औपचारिक रूप से सऊदी अरब के किंग सलमान बिन अब्दुलाज़िज़ अल सउद के साथ औपचारिक बातचीत की है.

- Khidki Desk

सऊदी अरब के शाह सलमान बिन अब्दुलाज़िज़ अल सउद के साथ अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडेन की यह बातचीत उस समय हुई है जब 2018 में सउदी के एक पत्रकार जमाल ख़शोगी की हुई हत्या पर अमेरिका की ओर से एक रिपोर्ट जारी की जानी है.

इस हत्या के मामले से शाह सलमान के बेटे क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान का नाम भी जोड़ा जा रहा है.


हालांकि व्हाइट हाउस की ओर से जारी बयान में इस मसले पर दोनों नेताओं के बीच हुई किसी बातचीत का कोई ज़िक्र नहीं है. लेकिन बयान कहता है कि राष्ट्रपति बाइडेन ने इस बातचीत में मानवाधिकारों और क़ानून के शासन के महत्व को अमेरिका के लिए बेहद महत्वपूर्ण बताया है.


बयान के मुताबिक़ इस बातचीत में बाइडेन ने मध्यपूर्व के अपने पुराने सहयागी सउदी अरब को लेकर अमेरिकी प्रतिबद्धताओं पर ज़ोर डाला और कहा कि ईरान की ओर से सउदी को किसी भी तरह के ख़तरे की स्थिति में अमेरिका सहयोग करेगा. साथ ही दोनों नेताओं ने यमन में चल रहे युद्ध को ख़त्म करने के लिए कूटनीतिक प्रयासों को तेज़ करने के बारे में भी बातचीत की.


बयान में कहा गया है कि ''राष्ट्रपति बाइडेन ने लाउज़ैन अल हथलौल समेत कुछ सउदी अमरीकी एक्टिविस्टों को रिहा करने के सउदी सरकार के फ़ैसले को क़ाफ़ी सकारात्मकता के साथ नोट किया है और इसे लेकर ज़ोर डाला है कि अमेरिका के लिए सार्वभौमिक मानवाधिकार और क़ानून का शासन बेहद महत्वपूर्ण है.''


लाउज़ैन अल हथलौल को सउदी में महिलाओं को ड्राइविंग के अधिकार की मांग करने के चलते जेल हुई थी. लेकिन वैश्विक स्तर पर आलोचना के बाद 3 साल क़ैद में गुजारने के बाद उन्हें ​बीती 10 फ़रवरी को रिहा किया गया है.