कोरोना के स्रोत की पहेली बरक़रार

चीन में कोरोनावायरस के स्रोत तलाश रहे विश्व स्वास्थ संगठन के एक जांच मिशन के हवाले से WHO ने कहा है कि अब भी कोरोना वायरस के स्रोत का सटीक पता नहीं चल पाया है. WHO ने कहा है कि उन सभी परिकल्पनाओं पर अब भी और अधिक अध्ययन और विश्लेषण की ज़रूरत है ​जो कि इसके स्रोत के बारे में अब तक सामने आई हैं.

- Khidki Desk

विश्व स्वास्थ संगठन की ओर से चीन में कोरोना वायरस के स्रोत का पता लगाने के लिए चल रहे एक जांच मिशन की अब तक की जांच के आधार पर WHO प्रमुख Tedros Adhanom Ghebreyesus ने कहा है ​कि Covid-19 के स्रोत को लेकर जितनी हाइपोथिसिस सामने आई थीं, अभी सब बरक़रार हैं और पुख़्ता निष्कर्षों तक पहुंचने के लिए और अधिक विश्लेषण और अध्ययन की ज़रूरत है.


हालांकि Coronavirus के स्रोत का सटीक पता लगाने में तो क़ामयाबी नहीं मिली है लेकिन WHO ने उस दावे को पूरी तरह ख़ारिज़ कर दिया है कि Coronavirus, Wuhan शहर की किसी वायरोलॉज़ी लैब से लीक हुआ.

जेनेवा में इस जांच मिशन के प्रमुख पीटर बेन एंबेरेक Peter Ben Embarek के साथ एक प्रेस कॉं​फ़्रेंस में गैब्रिएसस Ghebreyesus ने कहा कि उनकी टीम ने बेहद जटिल परिस्थितियों में एक बेहद अहम scientific exercise की है. ''कुछ सवाल उठे हैं हालांकि कुछ हाइपोथिसिस ख़ारिज हुई हैं। टीम के कुछ सदस्यों से मरी बातचीत हुई है, मैं यह बताना चाहता हूं कि सभी हाइपोथिसिस खुली हुई हैं और अभी और अधिक विश्लेषण और अध्ययन की ज़रूरत है.

SUPPORT US TO MAKE PRO-PEOPLE MEDIA WITH PEOPLE FUNDING.

Subscribe to Our Newsletter

© Sabhaar Media Foundation

  • White Facebook Icon

Nainital, India