अमेरिका में म्यांमार के नागरिकों को राहत

बाइडेन प्रशासन ने अमेरिका में रह रहे म्यांमार के नागरिकों को अस्थाई तौर पर डिपोर्ट ना करने और अमेरिका में वर्क पर्मिट को जारी करने की फ़ौरी राहत दी है.

- Khidki Desk

Representative Image

बाइडेन प्रशासन ने अमेरिका में रह रहे म्यांमार के नागरिकों को अस्थाई तौर पर डिपोर्ट ना करने और अमेरिका में वर्क पर्मिट को जारी करने की फ़ौरी राहत दी है.


अमेरिकी प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया है कि म्यांमार में हुए सैन्य तख़्तापलट के बाद बने अस्थिरता के हालात में यह क़दम उठाया गया है.


इससे, पहले से ही अमेरिका में रह रहे म्यांमार के तक़रीबन 1600 नागरिकों को राहत मिलेगी जिनमें म्यांमार के वे राजनयिक भी शामिल हैं जिनका म्यामार में हुए तख़्तापलट के बाद से वहां के नए सैन्य प्रशासन से ताल्लुक टूट चुका है. यह टैम्पोरे​री प्रोटेक्शन स्टेटस 18 महीनों के लिए दिया गया है.


म्यांमार में 1 फ़रवरी को लोकतांत्रिक तरीक़े से चुनी आंग सान सू की, की सरकार का सेना ने तख़्तापलट कर दिया था और सू की समेत कई नेताओं को गिरफ़्तार कर लिया था.


इसके बाद से म्यांमार में जबरदस्त विरोध प्रदर्शन जारी हैं जिन्हें दबाने के लिए सेना ने बेहद हिंसक तरीक़ा अपनाया है. अब तक कम से कम 70 प्रदर्शनकारियों की मौत हो गई है और 2000 से अधिक लोगों की गिरफ़्तारियां हुई हैं.