सऊदी की सरकारी पेट्रोलियम कंपनी के मुनाफ़े में भारी गिरावट

कोरोना महामारी की वजह से वैश्विक स्तर पर ऊर्जा बाजार बुरी तरह प्रभावित हुए हैं, जिससे अरामको के मुनाफे में भी जबर्दस्त गिरावट आई है.

- Khidki Desk

Representative Image

सऊदी अरब की पेट्रोलियम क्षेत्र की दिग्गज सरकारी कंपनी अरामको का मुनाफ़ा 2020 में भारी गिरावट के साथ 49 अरब डॉलर रह गया.


कोरोना महामारी की वजह से वैश्विक स्तर पर ऊर्जा बाजार बुरी तरह प्रभावित हुए हैं, जिससे कंपनी के मुनाफे में भी जबर्दस्त गिरावट आई है.


ऑयल कंपनी ने रविवार को अपने वित्तीय नतीजे जारी किए. 2019 में कंपनी ने 88.2 अरब डॉलर का मुनाफा कमाया था.


इससे पिछले साल यानी 2018 में कंपनी का मुनाफा 111.1 अरब डॉलर रहा था.अरामको दुनिया की सबसे मूल्यवान कंपनियों में से है.

महामारी की वजह से दुनियाभर में आवाजाही पर अंकुश लगा था, जिससे पेट्रोलियम उत्पादों के दाम अपने सर्वकालिक निचले स्तर पर आ गए थे.


हालांकि हाल के सप्ताहों में आवाजाही पर अंकुशों में ढील, कारोबार खुलने और कोविड-19 टीकाकरण अभियान की वजह से कच्चे तेल के दाम चढ़े हैं.


अरामको ने कहा है कि उसके तेल राजस्व में भारी गिरावट के बावजूद वह तिमाही आधार पर 18.75 अरब डॉलर या सालाना 75 अरब डॉलर के लाभांश के भुगतान के वादे को पूरा करेगी. कंपनी ने अपने शुरुआती आईपीओ के दौरान शेयरधारकों से यह वादा किया था.


लाभांश का लगभग पूरा पैसा सऊदी सरकार की ख़ज़ाने में जाएगा. सरकार की कंपनी में 98 प्रतिशत हिस्सेदारी है.