ड्राइविंग का हक़ माँग रही साऊदी महिला हुई जेल से रिहा

महिलाओं के ड्राइविंग करने पर लगाए गए प्रतिबंध को समाप्त करने के लिए दबाव बनाने के आरोप में लौजैन को बीते 1001 दिनों तक हिरासत में रखा गया था.

- Khidki Desk


साऊदी अरब की प्रमुख महिला अधिकार कार्यकर्ता लौजैन अल-हथलौल को तीन साल बाद एक साऊदी जेल से रिहा किया है.


उनकी बहन ने ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी है.


हालाँकि लौजैन की रिहाई पर अभी साऊदी के अधिकारियों ने कोई टिप्पणी नहीं की है. लौजैन पर साऊदी अरब में महिलाओं के ड्राइविंग करने पर लगाए गए प्रतिबंध को समाप्त करने के लिए दबाव बनाने का आरोप था और इसके लिए उन्हें 2018 में जेल में डाला गया था.


परिवर्तन के लिए आंदोलन करने, विदेशी एजेंडा चलाने और सार्वजनिक व्यवस्था को बिगाड़ने के आरोपों में प्री ट्रायल डेटेंशन और सोलिटरी कन्फ़ायन्मेंट के ज़रिए लौजैन को बीते 1001 दिनों तक हिरासत में रखा गया था.


दिसम्बर में एक साऊदी अदालत ने उन्हें आतंकवाद से जुड़े आरोपों में लगभग छः साल की जेल की सज़ा सुनाई थी. इस फ़ैसले की अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर निंदा की गई.