Myanmar में Su Kii पर नया मुक़दमा

म्यांमार की एक अदालत ने अपदस्थ नेता आंग सान सू की के ख़िलाफ़ सोमवार को एक और आरोप लगाया है. सू की पर अशांति फैलाने के लिए दंड संहिता की धारा 505 (बी) के तहत आरोप लगा है.

- Khidki Desk

म्यांमार में तख़्तापलट के ख़िलाफ़ प्रदर्शन कर रहे लोगों पर की गई पुलिस फ़ायरिंग में अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी हुई है. बावजूद इसके प्रदर्शनकारी देश के सबसे बड़े शहर की सड़कों पर डटे हुए हैं.


इधर दूसरी तरफ म्यांमार की एक अदालत ने अपदस्थ नेता आंग सान सू की के ख़िलाफ़ सोमवार को एक और आरोप लगाया है. सू की पर अशांति फैलाने के लिए दंड संहिता की धारा 505 (बी) के तहत आरोप लगा है. नैश्नल लीग फॉर डेमोक्रेसी (एनएलडी) की नेता आंग सान सू की को 1 फ़रवरी को हुए सैन्य तख़्तापलट के बाद से सार्वजनिक रूप से नहीं देखा गया है.


सू की और उनकी पार्टी के अन्य नेताओं को हिरासत में लिया गया है. पहले उन पर छह वॉकी-टॉकी रेडियो के अवैध रूप से आयात करने का आरोप लगाया गया था. इसके बाद उन पर कोरोना वायरस प्रोटोकॉल को भंग कर प्राकृतिक आपदा कानून का उल्लंघन करने का आरोप जोड़ा गया.


तख़्तापलट और आंग सान सू की समेत कई नेताओं को ग़िरफ्तार किए जाने के बाद से म्यांमार में जबरदस्त प्रदर्शनों का दौर जारी है.