क्या दस्तक दे रही है कोरोना की दूसरी लहर?

चीन के वुहान, दक्षिण कोरिया और ईरान समेत विश्व के कई देशों में जिस तरह से संक्रमण के नए मामले मिलने शुरू हुए हैं, उससे ऐसा लगता है कि दुनिया भर को थाम देने वाली इस महामारी ने अगले चरण में प्रवेश कर लिया है.

- अभिनव श्रीवास्तव

बीते हफ़्ते विश्व स्वास्थ्यx संगठन ने यह चेतावनी दी थी कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर मौजूदा लहर से अधिक घातक होगी और यह यूरोप और एशिया में बड़े पैमाने पर तबाही फैलाएगा. अगर पिछले कुछ दिनों में कोरोना संक्रमण के वैश्विक परिदृश्य पर नज़र डालें तो उसकी यह चेतावनी सच होती हुई दिखाई दे रही है. चीन के वुहान, दक्षिण कोरिया और ईरान समेत विश्व के कई देशों में जिस तरह से संक्रमण के नए मामले मिलने शुरू हुए हैं, उससे ऐसा लगता है कि दुनिया भर को थाम देने वाली इस महामारी ने अगले चरण में प्रवेश कर लिया है. संक्रमण के मामलों में यह उछाल तब देखने को मिला है जब दुनिया की तमाम अर्थव्यवस्थाएं कोरोना के साथ जीने की आदत डालने की बात कहते हुए लॉकडाउन को खोल रही हैं या खोलने की तैयारी में हैं. सबसे ज्यादा चिंता में डालने वाली ख़बर चीन से आई है जहां संक्रमण का केन्द्र रहे वुहान शहर में 30 दिन से ज्यादा समय के बाद संक्रमण के 6 नए मामले सामने आ गए हैं. ख़बरों के अनुसार, संक्रमण के ये सभी मामले एक ही आवासीय परिसर के हैं. कुछ ही दिनों पहले ये ख़बर आई थी कि वुहान के अस्पतालों में कोरोना संक्रमण से ग्रसित एक भी व्यक्ति नहीं बचा है.

ज़ाहिर है कि संक्रमण के नए मामलों ने चीन की चिंताएं बढ़ा दी हैं. चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के अनुसार रविवार को देश में संक्रमण के कुल 17 नए मामले सामने आए हैं जिनमें से सात मामले विदेश से आए लोगों से जुड़े हैं. इसी के साथ देश में संक्रमण के मामले बढ़ कर 82,918 हो गए हैं. हालात दक्षिण कोरिया में भी बिगड़ते नज़र आ रहे हैं जिसको कोरोना महामारी को नियंत्रित करने के लिए कुछ ही दिन पहले तक सराहा जा रहा था. लेकिन मई के आते-आते यहां फिर से कोरोना के मामले बढ़ने लगे हैं. बीते 24 घंटे में संक्रमण के 34 नए मामले सामने आने के बाद राष्ट्रपति मून जेई इन को लोगों से सतर्क रहने की अपील करनी पड़ी और साथ ही राजधानी सोल में बीते शनिवार को 2100 बार और नाइट क्लब्स को फिर से बंद कर दिया गया. ईरान में जहां देश के अन्य हिस्सों में संक्रमण में कमी आने के बावजूद दक्षिणी-पश्चिमी हिस्से में कोविड-19 के नए मामले बढ़ रहे हैं. ईरान के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया है कि यह वृद्धि खुजेस्तान, राजधानी तेहरान और शियाओं के प्रमुख स्थल कोम में दर्ज की जा रही है. उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 1,529 नए मामले आए हैं. देश में अभी तक संक्रमण के कुल 1,06,220 मामलों की पुष्टि हो चुकी है. इधर ब्रिटेन, फ्रांस और जर्मनी में भी कोरोना संक्रमण के मामलों में ठीक इसी पैटर्न पर इज़ाफ़ा हो रहा है. मोटे तौर पर ये स्थिति लॉकडाउन में अलग-अलग स्तरों में ढील देने के बाद पैदा हुई है. इधर स्थितियां रूस में भी बहुत तेजी से बिगड़ रही हैं जो अब कोरोना संक्रमण के कुल मामलों में दुनिया में अब स्पेन और अमेरिका के बाद तीसरे स्थान पर आ गया है. ख़बरों के अनुसार यहां पिछले 24 घंटे में 11,656 मामले सामने आए हैं और 94 लोगों की मौत हो गई है। भारत के सूरत-ए-हाल भी बहुत अच्छे नहीं है। यहां पिछले 24 घंटों में कोरोना के 4213 नए मामले सामने आएं हैं और देश के अलग-अलग हिस्सों के संक्रमण के नए मामले सामने आ रहे हैं। ये तस्वीर निश्चित ही कोरोना की दूसरी लहर की इशारा कर रही है। यही वजह है कि कोरोना के खतरे पर कुछ हद तक विजय पाने वाले देश भी लॉकडाउन को चरणबद्ध ढंग से खोलने की नीति पर फिर से विचार करने को मजबूर हैं.