सऊदी अधिकारी ने संयुक्त राष्ट्र जांचकर्ता को दी थी मौत की धमकी

जब Callamard से पूछा गया कि इस ​टिप्पणी को जैनेवा में बेस्ड उनके सहयोगियों ने कैसे समझा तो उनका कहना था, ''यह एक जान से मारने की धमकी थी. इसे ऐसे ही समझा जा सकता था.''

- Khidki Desk

Agnes Callamard (PC: @AgnesCallamard Twitter)

ब्रिटिश मीडिया संस्थान दि गार्डियन ने अपनी एक ख़बर में कहा है कि सउदी के पत्रकार जमाल ख़ाशोगी की हत्या के मामले की संयुक्त राष्ट्र की स्वतंत्र जांचकर्ता Agnes Callamard को एक वरिष्ठ सउदी अधिकारी ने दो बार जान से मारने की धमकी दी.


गार्डियन के साथ एक साक्षात्कार में Agnes Callamard ने कहा कि पत्रकार जमाल ख़ाशोगी की हत्या पर जांच के दौरान, 2020 में संयुक्त राष्ट्र के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक में एक वरिष्ठ सउदी अधिकारी ने दो बार धमकी देते हुए कहा कि अगर Callamard पर अंकुश नहीं लगाया गया तो वह ''उन्हें देख लेगा''.


जब Callamard से पूछा गया कि इस ​टिप्पणी को जैनेवा में बेस्ड उनके सहयोगियों ने कैसे समझा तो उनका कहना था, ''यह एक जान से मारने की धमकी थी. इसे ऐसे ही समझा जा सकता था.''

Callamard एक फ्रांसीसी नागरिक और मानवाधिकार विशेषज्ञ हैं जो इस महीने एम्नेस्टी इंटरनेश्नल की सैक्रेट्री जनरल बनने वाली हैं. वह 2018 में इंस्तामबुल में हुई पत्रकार ख़ाशोगी की हत्या के मामले की पहली जांचकर्ता थीं.


उन्होंने 2019 में प्रकाशित हुई अपनी 100 पन्नों की रिपोर्ट में निष्कर्ष निकाला था कि इस बात के "विश्वसनीय प्रमाण" मौजूद हैं कि सऊदी के युवराज, मोहम्मद बिन सलमान और अन्य वरिष्ठ सऊदी अधिकारी, सउदी सरकार के तीखे आलोचक वॉशिंग्टन पोस्ट से जुड़े पत्रकार ख़ाशोगी की हत्या के लिए उत्तरदायी थे.


साथ ही इस रिपोर्ट में इस हत्या को "अंतर्राष्ट्रीय अपराध" कहा गया था.


SUPPORT US TO MAKE PRO-PEOPLE MEDIA WITH PEOPLE FUNDING.

Subscribe to Our Newsletter

© Sabhaar Media Foundation

  • White Facebook Icon

Nainital, India