हत्यारोपी गोरे किशोर के बचाव में आए ट्रम्प

प्रेस कॉंफ्रेंस के दौरान ट्रम्प ने उस 17 वर्षीय गोरे किशोर का बचाव किया जिसने पिछले हफ़्ते विस्कंसिन के केनोशा में भड़की हिंसा के बीच 2 लोगों की गोली मार कर हत्या कर दी थी और एक तीसरे व्यक्ति को घायल कर डाला था.

- Khidki Desk

चुनावों से ठीक पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प अपने कोर वोट बैंक माने जाने वाले व्हाइट सुप्रिमेसिस्ट्स को फिर से तुष्ट करते दिखाई दिए.


सोमवार को व्हाइट हाउस की एक प्रेस कॉंफ्रेंस के दौरान ट्रम्प ने उस 17 वर्षीय गोरे किशोर का बचाव किया जिसने पिछले हफ़्ते विस्कंसिन के केनोशा में भड़की हिंसा के बीच 2 लोगों की गोली मार कर हत्या कर दी थी और एक तीसरे व्यक्ति को घायल कर डाला था.


इससे पहले केनोशा में एक निहत्थे काले व्यक्ति जैकब ब्लेक पर पुलिस ने 8 गोलियां दाग दी थी जिससे वह बुरी तरह घायल हो गया था. इसके विरोध में शहर भर में काफ़ी हिंसक प्रदर्शन देखे गए थे. इन्हीं प्रदर्शनों के दौरान 17 साल के इस गोरे किशोर कीले रिटेनहाउस ने 26 साल के एंथोनी ह्यूबर, और 36 साल के जोसेप रोसेनबाम, को गोली मार कर उनकी जान ले ली थी और एक तीसरे व्यक्ति को घायल कर डाला था. एक ​मोबाइल फ़ोन फुटेज़ काफी सर्कुलेट हो रहा है जिसमें रिटेनहाउस कहते दिखाई दे रहे हैं कि वे प्रदर्शनकारियों से शहर के बिजनेस को बचाने के लिए शहर में आए हैं.

व्हाइट हाउस की प्रेस कॉंफ्रेंस के दौरान जब एक पत्रकार ने राष्ट्रपति ट्रम्प से पूछा कि क्या वे केनोशा के इस गोरे युवक रिटेनहाउस की हरक़त की निंदा करेंगे? ट्रम्प ने इस पर उल्टा इस घटना में मारे गए लोगों पर उस युवक पर हिंसक हमला करने का ओरोप लगा दिया. उन्होंने कहा-

''हम इस मामले की जांच कर रहे हैं. यह एक रोचक स्थिति है, आपने भी वही टेप देखा है जो मैंने देखा है. वह उनसे बचना चाह रहा था दूर जाना चाह रहा था... ऐसा लगता है.. और वह गिर गया फिर उन्होंने उस पर बेहद हिंसात्मक तरीक़े से हमला किया. इस घटना में असल में क्या हुआ हम इसकी पड़ताल कर रहे हैं और यह अभी जांच के अधीन है. लेकिन मेरा मानना है कि वह बड़े संकट में घिर गया था.. वह घिर गया होगा.. वह संभवत: मारा जाता. लेकिन यह अभी जांच के अ​धीन है.''

ट्रम्प के इस बयान पर पत्रकार ने फिर पलट कर पूछा कि क्या उन्हें यह लगता है कि आम नागरिकों को इस तरह क़ानून को अपने हाथ में ले लेना चाहिए? इसके जवाब में ट्रम्प ने बात बदलते हुए कहा -


''मुझे यह देखना चाहता हूं कि लॉ इन्फोर्समेंट सब चीज़ों का ख़्याल रखे. मैं मानता हूं कि लॉ इन्फोर्समेंट को ही सब चीज़ों का ख़्याल रखना चाहिए लेकिन हमें भी अपने पुलिस कर्मियों और पुलिस को उनका सम्मान देना होगा. वे लोग बहुत प्रतिभाशाली लोग हैं. बहुत बहादुर हैं.''

ट्रम्प के हत्या आरोपी गोरे युवक का इस तरह से बचाव करने का सीधा रिश्ता आने वाले चुनावों जोड़ा जा रहा है. जानकारों की राय है कि ऐसा कर के ट्रम्प अपने गोरे समर्थकों और व्हॉइट सुप्रिमेसिस्ट्स को खुश करना चाहते हैं.

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©