ट्रम्प की धमकी, बैन करेंगे टिक-टॉक

एक तरफ़ ट्रम्प ने टिक टॉक को बैन करने के लिए एक्ज़िक्यूटिव ऑर्डर्स लाने की बात कही है वहीं दूसरी ओर माइक्रोसॉफ़्ट अमेरिका में टिक टॉक के संचालन के अधिकार ख़रीदने के लिए बाइटडांस से बात कर रहा है.

- Khidki Desk

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को कहा कि वह अमेरिका में तेजी से प्रचलित हो रहे टिकटॉक एप को बंद करेंगे और इसके लिए शनिवार को एक एग्जीक्यूटिव आदेश जारी करेंगे.


ट्रंप इस बात के लिए दबाव बनाना चाहते हैं कि टिकटॉक का चीनी मालिक इसे बेच दे. उन्होंने कहा कि अमेरिका के अधिकारियों ने इस पर चिंता जताई है कि इस एप से जुटाई गई जानकारी का इस्तेमाल चीन का ख़ुफ़िया विभाग कर रहा है.


एक प्रेस कॉंफ्रेंस के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि जहां तक टिकटॉक से जुड़ी चिंताओं का सवाल है, हम उसे अमेरिका में प्रतिबंधित करने जा रहे हैं. ट्रंप का यह बयान ऐसे समय आया है, जब शुक्रवार को आई एक ख़बर के मुताबिक प्रौद्योगिकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी माइक्रोसॉफ्ट टिकटॉक के अमेरिकी परिचालन के अधिग्रहण की दिशा में शुरुआती दौर की बातचीत कर रही है.


वॉल स्ट्रीट जर्नल ने ख़बर दी कि भारतीय मूल के अमेरिकी सत्य नडेला की अगुवाई वाली कंपनी माइक्रोसॉफ्ट टिकटॉक के अमेरिकी कामकाज को अधिगृहित करने की वार्ता में काफी आगे बढ़ चुकी है. यह सौदा अरबों डॉलर का हो सकता है.


मामले की जानकारी रखने वाले लोगों के मुताबिक़ सोमवार तक एक सौदा हो सकता है और इस बातचीत में माइक्रोसॉफ्ट, बाइटडांस और व्हाइट हाउस के प्रतिनिधि शामिल हो सकते हैं. बातचीत में बदलाव संभव है और सौदा नहीं भी हो सकता है.


चीन की बाइटडांस टिकटॉक की मूल कंपनी है. हाल के कुछ हफ्तों में अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने टिकटॉक पर अमेरिकियों की निजी सूचना एकत्र करने का आरोप लगाया था. ट्रंप प्रशासन जल्द ही बाइटडांस को टिकटॉक के अमेरिकी परिचालन के स्वामित्व से वंचित कर सकता है.

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©