Ghosn को भगाने के आरोप में पायलटों और एक अधिकारी को जेल

2018 में वित्तीय अनियमितताओं के आरोपों में टोक्यो में ग़िरफ्तार किए गए निसान के पूर्व चेयरमैन Carlos Ghosn, जमानत के नियमों का उल्लंघन कर देश छोड़कर फ़रार हो गए थे.

- Khidki Desk

Representative Image

इस बीच तुर्की की एक अदालत ने दो पायलटों और एक निजी एयरलाइन के अधिकारी को निसान के पूर्व अध्यक्ष कार्लोस घोसन को 2019 में जापान से बाहर नाटकीय ढंग से भगाने के मामले में दोषी ठहराया है. इस्तांबुल की अदालत ने इन लोगों को चार साल और दो महीने की जेल की सज़ा सुनाई है.


अदालत ने अवैध रूप से प्रवासी व्यक्ति की तस्करी के इस आरोप के दो दूसरे पायलटों को बरी कर दिया. दो flight attendants को भी बरी कर दिया गया जिन पर यह आरोप था कि उन्होंने इस अपराध के बारे में प्रशासन को जानकारी नहीं दी.


2018 में वित्तीय अनियमितताओं के आरोपों में टोक्यो में ग़िरफ्तार किए गए घोसन, जमानत के नियमों का उल्लंघन कर देश छोड़कर फ़रार हो गए थे. उन्हें एक निजी विमान से ओसाका से इस्तांबुल भेजा गया और फिर वहां से बेरूत के लिए उन्हें एक दूसरे विमान में चढ़ाया गया, जहां वह 30 दिसंबर, 2019 को पहुंचे. माना जाता है कि वे एक बड़े बक्से के अंदर छिपे हुए थे.