म्यांमार के सैन्य नेताओं के ख़िलाफ़ अमेरिका ने लगाया प्रतिबंध

यह प्रतिबंध सैन्य तख़्तापलट के बाद चल रहे प्रदर्शनों के दौरान एक प्रदर्शनकारी की गोली लगने से हुई मौत के बाद लगाए गए हैं.

म्यांमार में हुए सैन्य तख़्ता पलट के ख़िलाफ़ लगातार प्रदर्शन जारी हैं- अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भी म्यांमार में तख़्तापलट करने वाले सैन्य नेताओं के खि़लाफ़ प्रतिबंध लगाने के लिए एक एक्ज़िक्यूटिव ऑर्डर को मंज़ूरी दे दी है. प्रतिबंधों के यह प्रावधान सैन्य नेताओं, उनके परिवार और उनसे जुड़े व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर लागू होंगे.


राष्ट्रपति बाइडन ने कहा, 'मैं आज एक बार फिर म्यांमार की सेना से आंग सान सू ची और विन मिंत समेत लोकतांत्रिक राजनीतिक बंदियों और कार्यकर्ताओं को तुरंत रिहा करने की मांग करता हूं.'


उन्होंने कहा, 'सेना को सत्ता छोड़नी ही होगी.'


राष्ट्रपति बाइडन ने कहा कि उनका प्रशासन म्यांमार के अमेरिका में रखे एक अरब डॉलर के फंड को भी फ़्रीज़ कर रहा है.


यह प्रतिबंध सैन्य तख़्तापलट के बाद चल रहे प्रदर्शनों के दौरान एक प्रदर्शनकारी की गोली लगने से हुई मौत के बाद लगाए गए हैं. मंगलवार को म्या थ्वे थ्वे खाइंग नाम की एक 19 साल की महिला को उस वक़्त गोली लग गई थी जब पुलिस ने प्रदर्शन कारियों को तितर बितर करने के लिए उन पर पानी, रबर बुलेट्स और गोलियां बरसाई.