यमन के स्कॉट्रा में अलगाववादियों और सेना के बीच भयानक झड़प

ताज़ा संघर्ष तब उभरा जब एसटीसी ने स्कॉट्रा की राजधानी हदिबोह में क़ब्ज़े के लिए भारी संख्या में सेना भेजनी शुरू की

- Khidki Desk


यमन में लंबे समय से छ़िड़े युद्ध के बीच, सउदी समर्थित सरकारी सेनाओं, और UAE स​मर्थित सदर्न ट्रांजिश्नल काउंसिल यानि एसटीसी के बीच पूर्वोत्तर अफ़्रीका में हॉर्न ऑफ़ एफ़्रिका कहे जाने वाले इलाक़े क़ब्ज़ा करने की कोशिश में शुक्रवार को स्कॉट्रा आइलैंड में भयानक सैन्य झड़पें हुई हैं.


सदर्न ट्रांजिश्नल काउंसिल दक्षिणी यमन को उत्तरी यमन से अलग करने की मांग करता रहा है. अप्रैल में दक्षिणी यमन के अपने नियंत्रण वाले में एसटीसी ने अपने शासन की घोषणा कर दी थी. इसके बाद से उभरे तनाव के बीच यमन की सरकारी सेनाएं एसटीसी के क़ब्जे वाले इलाक़ों में उसके ख़िलाफ़ अभियान चला रही हैं.


ताज़ा संघर्ष तब उभरा जब एसटीसी ने स्कॉट्रा की राजधानी हदिबोह में क़ब्ज़े के लिए भारी संख्या में सेना भेजनी शुरू की. एक सरकारी अधिकारी ने नाम ना छापने की शर्त पर एक न्यूज़ ऐजेंसी को बताया कि एसटीसी के लड़ाकों ने हदिबोह शहर के पश्चि​मी हिस्से में स्थित स्कॉट्रा के सुरक्षा निदेशालय पर क़ब्ज़ा कर लिया था.


यमन सरकार में मत्स्य पालन मंत्री फ़हद काफयेन ने एसटीसी की सेना पर हदिबोह शहर में ख़ुलेआम बमबारी करने के आरोप लगाए हैं और आलोचना करते हुए कहा है कि एसटीसी को ऐसी ग़ैर ज़िम्मेदार हरक़त से बाज आना चाहिए.

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©