कारोना से भुखमरी की क़गार पर पहुंचेंगे दोगुना लोग

जेनेवा से एक ​वीडियो कांफ्रेंसिंग पर पत्रकारों से बात करते हुए WFP के मुख्य अर्थशास्त्री और शोध, आंकलन और निगरानी के निदेशक आरिफ़ हुसैन ने कहा, ''कोविड- 19 संभवत: उन करोड़ों लोगों के लिए तबाही का सबब बन सकता है जो कि पहले से ही ग़रीबी में लटके हुए हैं. हमें इससे जूझने के लिए साथ आना होगा क्योंकि अगर हम ऐसा नहीं करते हैं तो हमें भारी क़ीमत ​चुकानी होगी. वैश्विक स्तर पर यह क़ीमत बहुत अधिक होगी. कई लोग अपनी ज़िंदगी खो देंगे और कई और लोगों की आजीविका लुट जाएगी।''

- Khidki Desk

संयुक्त राष्ट्र के World Food Programme (WFP) ने कहा है कि कोरोनावायरस के चलते दुनिया भर में भूखमरी की कग़ार पर पहुंचे लोगों की संख्या इस साल ठीक दोगुनी हो जाएगी.


WFP की ओर से जारी चौंथी Global Report on Food Crises में कहा गया है कि कि यह संख्या इस बार 26 करोड़ पचास लाख के आसपास होगी जबकि पहले ही 13 करोड़ 50 लाख लोग इन हालातों में ज़िंदगी जी रहे हैं.


रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना महामारी के चलते रोज़मर्रा के साधारण रोज़गारों पर पड़ने वाले असर के चलते यह आंकड़ा तक़रीबन दोगुना हो जाएगा. जेनेवा से एक ​वीडियो कांफ्रेंसिंग पर पत्रकारों से बात करते हुए WFP के मुख्य अर्थशास्त्री और शोध, आंकलन और निगरानी के निदेशक आरिफ़ हुसैन ने कहा,


''कोविड-19 संभवत: उन करोड़ों लोगों के लिए तबाही का सबब बन सकता है जो कि पहले से ही ग़रीबी में लटके हुए हैं. हमें इससे जूझने के लिए साथ आना होगा क्योंकि अगर हम ऐसा नहीं करते हैं तो हमें भारी क़ीमत ​चुकानी होगी. वैश्विक स्तर पर यह क़ीमत बहुत अधिक होगी. कई लोग अपनी ज़िंदगी खो देंगे और कई और लोगों की आजीविका लुट जाएगी।''

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

©